NZvsIND: इन बड़े खिलाड़ियों की वजह से टीम इंडिया को करना पड़ा हार का सामना Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

स्पोर्ट्स डेस्क। न्‍यूजीलैंड के खिलाफ तीसरे टी-20 मैच में भारत को 4 रन के नजदीकी अंतर से हार का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही भारत का लगातार 10 टी-20 सीरीज नहीं हारने का क्रम भी टूट गया। भारत को मैच जीतने के लिए आखिरी ओवर में 16 रन की दरकार थी। दिनेश कार्त‍िक और क्रुणाल पांड्या क्रीज पर थे। लेकि‍न ये दोनों टिम साउदी के इस ओवर में सिर्फ 11 रन ही जुटा सके। सोशल मीडिया में ज्यादातर क्रिकेट प्रशंसक इस हार के लिए दिनेश कार्तिक को जिम्‍मेदार ठहरा रहे हैं। क्‍योंकि उन्‍होंने आखिरी ओवर की दूसरी और तीसरी गेंद डॉट खेली। ओवर की अंतिम गेंद पर उन्‍होंने छक्का जड़ा, लेकिन तब तक बहुत चुकी थी।


कार्तिक और क्रुणाल ने भारत को जीत के करीब पहुंचाया

भारत की इस हार पर सोशल मीडि‍या की बहस दो धड़ों में बंट गई है। कुछ लोग इस हार के लिए भारत के शीर्ष क्रम को जिम्मेदार मान रहे हैं, तो कुछ के निशाने पर दिनेश कार्तिक हैं। लेकिन हम इस पूरे मैच में टीम इंडिया के प्रदर्शन पर नजर डालें तो पएंगे कि हार के लिए दिनेश कार्तिक कहीं से भी दोषी नहीं हैं। बल्कि क्रुणाल पंड्या और दिनेश कार्तिक के बीच 7वें विकेट के लिए 28 गेंदों में 63 रनों की साझेदारी नहीं होती तो भारत की हार और बड़ी होती। दिनेश कार्तिक ने 16 गेंदों में 4 छक्कों की मदद से 33 और क्रुणाल पंड्या 13 गेंदों में 2 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 26 रन बनाकर नाबाद रहे।

गेंदबाजी और फील्डिंग में भारत का प्रदर्शन रहा बेहद खराब

दरअसल, भारतीय क्षेत्ररक्षकों और गेंदबाजों के लचर प्रदर्शन के कारण न्यूजीलैंड ने 212 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया। जिसका पीछा करते हुए भारत के 3 सबसे धाकड़ बल्‍लेबाजों ने बहुत खराब प्रदर्शन किया, जिसका खामियाजा मैच हारकर चुकाना पड़ा। शि‍खर धवन, रोह‍ित शर्मा और एमएस धौनी ने पूरी तरह निराश किया। शिखर धवन सिर्फ 5 रन बनाकर पवेलियन लौटे। रोहित शर्मा (32 गेंदों में तीन चौकों की मदद से 38 रन) क्रीज पर टिके तो रहे लेकिन तेजी से रन नहीं बना सके। जब टीम को उनकी सबसे ज्यादा जरूरत थी तो वह एक खराब शॉट खेलकर पवेलियन लौट गए। महेंद्र सिंह धौनी भी 4 गेंदों का सामना कर सिर्फ 2 रन बनाकर आउट हो गए।

धौनी, रोहित और शिखर का खराब प्रदर्शन की वहज से हारे

इन तीनों बल्‍लेबाजों ने मिलकर 40 गेंदों में मात्र 45 रन ही बनाए। इस दौरान इन्‍होंने सिर्फ 4 बाउंड्री लगाईं। बाकी के 5 बल्‍लेबाजों ने अच्छी बल्‍लेबाजी की और भारत को मैच में अंत तक बनाए रखा। विजय शंकर, ऋषभ पंत, हार्दिक पंड्या, क्रुणाल पंड्या और दिनेश कार्तिक ने ​मिलकर 80 गेंदों का सामना किया और 151 रन बनाए। इसमें 22 बाउंड्री लगाईं। विजय शंकर ने 28 बॉल में 5 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 43 रन बनाए। ऋषभ पंत ने 12 बॉल में ही 1 चौके और 3 छक्कों की मदद से 28 रन ठाके तो वहीं, हार्दिक पंड्या ने 11 बॉल में 1 चौके और 2 छक्कों की मदद से 21 रन बनाए। इस तरह कहा जा सकता है कि शिखर, धौनी और रोहित का खराब प्रदर्शन भारत की हार का कारण बना। Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures