विश्वकप में भारत को मिली हार के बाद इन दो खिलाड़ियों की साझेदारी ने बना डाला शानदार रिकॉर्ड

इंटरनेट डेस्क : विश्वकप 2019 में भारत और न्यूजीलैड की टीम का सेमीफाइनल मुकाबला मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रेफर्ड क्रिकेट स्टेडियम में खेला गया जहां भारतीय टीम को करारी हार का सामना करना न्यूजीलैंड की टीम ने भारतीय टीम के सामने 239 रन का स्कोर खड़ा किया जिसमें भारतीय टीम 221 रन पर ही सिमट कर रह गई और न्यूजीलैंड की टीम विश्वकप में 18 रनों से विजयी टीम सेमीफाइनल में घोषित हुई।

loading...

भारतीय टीम इस मैच में 92 रन के भीतर ही अपने 6 विकेट गंवा चुकी थी, लेकिन ऐसे मुश्किल समय पर एमएस धोनी और रविन्द्र जडेजा ने हार नहीं मानी और 116 रन की एक शानदार साझेदारी निभाई थी जिसकी हर तरफ तारीफें हो रही है भले ही इस मैच में भारतीय टीम हार गई हो लेकिन इन खिलाड़ी की साझेदारी ने मैच ग्राउंड में खूब प्रंशसाएं हो रही है ।

Old Post Image

विश्व कप के इतिहास में इससे पहले 7वें विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड युएई के शाइमन अनवर और अमजद जावेद के नाम रहा था। इन दोनों बल्लेबाजों में विश्वकप 2015 में आयरलैंड के खिलाफ 107 रन की साझेदारी की थी और अब यह रिकॉर्ड रवीन्द्र जड़ेजा और धोनी ने अपने नाम कर लिया है।

विश्वकप में इन दोनों खिलाड़ियों के रनों की बात करें तो जड़ेजा ने 77 रन, तो धोनी ने बनाये 50 रन बनाए थे रविन्द्र जडेजा ने 59 गेंदों पर 77 रन की शानदार पारी खेली तो वही इस पारी के दौरान 4 शानदार चौके और 4 शानदार छक्के लगाये। वही महेन्द्र सिंह धोनी की बात करें तो धोनी ने इस खेल में72 गेंदों पर 50 रन बनाये उन्होंने अपनी पारी में एक चौका और एक छक्का भी लगाया।

Old Post Image

धोनी और जड़ेजा के इस संघर्षपूर्ण मैच में भले ही भारत को जीत ना मिली हो लेकिन इन दोनों के इस शानदार साझेदारी की हर तरफ प्रशंसाए हो रही है जिसने फैंस का दिल जीत लिया।