loading...

अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में देश के गृहमंत्री का पद संभालने वाले लाल कृष्ण आडवाणी इन दिनों भाजपा से ही नहीं बल्कि राजनीति से भी गुमनाम हो चुके हैं। कभी देश के कद्दावर नेता और भाजपा की पहचान माने जाने वाले आडवाणी अब राजनीति में भुलाया गया नाम हो चुके हैं। उनकी सीट गांधीनगर से भी इस बार अमित शाह को टिकट दे दिया गया। इसके साथ ही वो सांसद भी नहीं रह गए। आइए जानें वो अब अपना पूरा दिन कैसे बिताते हैं।


सुबह उठकर पढ़ते हैं अखबार

92 साल के लाल कृष्ण आडवाणी के पास कोई सरकारी ओहदा नहीं है। इस वजह से वो सरकारी कामकाज से तो दूर हैं। फिर वो वो सुबह जल्दी उठ जाते हैं और इसके बाद अपने घर के लॉन में ही टहलते हैं। इसके बाद वो करीब दो घंटे तक हिन्दी और अंग्रेजी के अखबार पढ़ते हैं। बाहर वो कदम ही निकलते हैं। उम्र की वजह से वो बेहद हल्का और सात्विक नाश्ता करते हैं।

जिसको दिया समय, उससे ही करते हैं मुलाकात

आडवाणी खुद भी अब राजनीति से दूरी बनाए रहते हैं। वो गैर राजनीतिज्ञ लोगों से मिलना ज्यादा पसंद करते हैं। हालांकि उन्होंने जिसको समय दिया हो, उससे ही मुलाकात करते हैं। हालांकि अब आडवाणी अपने लिए ज्यादा वक्त निकालते हैं। वो अपनी पोती के साथ समय बिताना पसंद करते हैं। वहीं उन्होंने विदेश यात्राएं भी करनी शुरू कर दी हैं। पिछले तीन सालों में वो दुबई, डिजनीलैंड की सैर भी कर चुके हैं।