शखी मिजाज का था पति, खेतों में लेजाकर कर पत्नी के साथ कर दिया ऐसा काम..! Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

इंटरनेट डेस्क। अवैध संबंध के कारण विवाद या हत्या के कई मामले आपने पहले भी सुने होंगे, लेकिन अब एक नाया मामला सामने आया है, उसे जान हर कोई हैरान है। यह मामला साफ तौर पर उनके लिए एक चेतावी हो सकता है, जिन्हें हर किसी पर शक करने की आदत सी होती है। दरअसल, यह मामला उत्तर प्रदेश के कानपुर का है जहां हैरान कर देने वाला मामला सामने आये है। ..जी हां, पत्नी के अवैध संबंधों को लेकर पति का उसके साथ रोजाना विवाद रहता था। फिर एक दिन अचानक वो हुआ जिसका उसे अंदाजा तक न था। कानों कान किसी को खबर नहीं हुई, लेकिन जब घटना घटी तो खबर आग की तरह फैल गई। यह नजारा देखने वाले तो सन्न रह गए। जी हां, कानपुर के नजदीक बिल्हौर कस्बे के नसिरापुर गांव में अवैध संबंधों के शक में बीते बुधवार रात एक शख्स अपनी पत्नी को खेतों पर ले गया और फिर उसके साथ वहां ऐसा काम किया जिसके बारे में जानकर आप भी चौंक पड़ेंगे। इस कार्रवाई को अंजाम देने से पहले शख्न ने पत्नी को अपने विश्वास में लिया था और उसे इस बात की भनक ही नहीं लगने दी कि वह उसके साथ ऐसा कुछ करने जा रहा है। 

Old Post Image

..जी हां, शख्स ने फावड़ा लेकर अपनी पत्नी के टुकड़े-टुकड़े कर डाले। इसके बाद आरोपी ने क्षतविक्षत शव को खेत में ही दफनाने की कोशिश की। लेकिन देररात तक जब दोनों घर न पहुंचे तो ग्रामीण खोजबीन करते खेत पर पहुंच गए। जहां लोगों ने पूरा नजरा देख लिया। मानों सबकी आंखें चौंधिया गई हो। गांव वालों ने बिना देरी किए घटना की जानकारी पुलिस को दी जिसके बाद घटनास्थल पर पहुंचकर पुलिस ने शख्स को गिरफ्तार कर लिया। वह अवैध संबंधों के शक में अक्सर पत्नी से विवाद करता था। जानकारी के मुताबिक अधेड़ रामनाथ रैदास अपनी पत्नी तारावती (48), बड़े बेटे सूरज, बहू ममता और छोटे बेटे दीपक के साथ नसिरापुर गांव में रहते हैं। रामनाथ रैदास पहले आगरा में सिलाई का काम करता था, लेकिन बीते कुछ माह से वह गांव में रहकर खेती-बाड़ी कर रहा था। बीते बुधवार की दोपहर बाद रामनाथ पत्नी तारावती के साथ खेतों पर निराई करने गया था। इसी दौरान पति-पत्नी में किसी बात को लेकर झगड़ा शुरू हो गया। 

Old Post Image

इसी बीच उसने गुस्से में आकर फावड़े से पत्नी पर हमला कर दिया। रामनाथ ने अपनी पत्नी के सिर पर फावड़े से कई वार किए। जिससे तारावती ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।  खेत गांव से करीब दो किलोमीटर दूर था। खेत तक पहुंचने के लिए दो जंगल बीच में होने से ग्रामीणों को घटना की जानकारी नहीं हो सकी। देर शाम आठ बजे तक सास-ससुर के घर न लौटने पर बहू ममता ने पड़ोसी को इस बात की जानकारी दी। वह रात को कई ग्रामीणों समेत देर रात तकरीबन 11 बजे तलाश में घटनास्थल वाले खेत पर पहुंचे। यहां रामनाथ तारावती के शव को जमीन में दफनाने की कोशिश कर रहा था। पूरा नजारा देखकर सब सन्न रह गए और तुरंत इसकी सूचना 100 नंबर पर पुलिस कंट्रोलरूम को दी। पुलिस पहुंची और शव का पंचायतनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। मौके से हत्या में इस्तेमाल किया गया फावड़ा भी बरामद कर लिया गया। 

Old Post Image

लेकिन इस घटना के बाद पति रामनाथ की मानसिक हालत बिगड़ गई। पुलिस हिरासत में वह बार-बार कोतवाली के महिला और पुरुष सिपाहियों से बीड़ी पिलाने की बात कह रहा था। घटना के बारे में पूछा गया तो रामनाथ ने कहा कि लंबी कहानी है बैइठौ तौ बताएं, बीड़ी लैइके आव, फिर बैठव आय। पड़ोसियों ने बताया कि हत्यारा रामनाथ बेहद शक्की किस्म का आदमी था। दो बेटों की मां तारावती पर वह आएदिन तरह-तरह के आरोप लगाकर कलह करता था। जबकि तारावती सौम्य स्वभाव की महिला थीं।

यह भी पढ़े : बकरे पर मर रही है "बकरियां".. देखते ही बजने लगती है दिल की घंटियां ! 
यह भी पढ़े : अनोखी शादी : बेटियों ने किया मां का "कन्यादान"... धूमधाम से ससुराल भेजा !
यह भी पढ़े : 7 वर्षीय चचेरे भाई से किया कुकर्म, फिर हत्या कर झाड़ियों में छुपाया शव
यह भी पढ़े : अनोखा जीव : जो बिना कुछ खाए-पीए रह सकता है 30 साल तक जिंदा !

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures