क्या आपने देखा है ऐसा किला जिसकी दीवारों से टपकता है खून...  Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

न्यूज़ डेस्क। आपने अब तक इतिहास की कई कहानियों के बारे में सुना होगा। जिनके बारे मे सुनकर हर कोई चौंक जाता है। आज आपको एक ऐसा ही किस्सा बता रहे हैं। जो फ्रांसिसी इतिहासकार बुकानन का है।  बताया जाता है कि इस इतिहासकार ने करीब 200 साल पहले बिहार की यात्रा की थी। उसी दौरान उन्होंने  रोहतास गढ़ का दौरा किया था। जहां उन्होंने अपने लेखने मे यहां के पत्थरों से खून टपकने की बात कही थी।


इस बात को यहां के रहने वाले लोग भी मानते है कि यहा पर कई बार रोनें की आवाज भी आती है। जिसको कई लोगों ने सुना है। इसे लेकर लोगों का कहना है कि यहां पर राजा रोहिताश्व की आत्मा रहती है। कहते है कि यह आवाज इतनी खतरनाक है। कि इसको सुनकर हर कोई घबरा जाता है।

बता दें, रोहतास किले का इतिहास, संस्कृति अति समृद्धशाली रहा है। और इसका यहीं कारण था कि अंग्रेजीं सत्ता के दौरान यह किला पुरातात्विक महत्व का रहा है। जिसे बाद में साल 1807 में सर्वेक्षण के नाम पर इसे बुकानन को सौंपा गया था। कहा जाता है कि वह 30 नवम्बर 1812 को रोहतास आया था। जिसने कई सारी जानकारिया एकत्रित की थी।

यहां से उन्होंने राजा शशांक की एक मोहर भी खोज निकाली थी। इस किले की खूबसूरती की बात करे तो इसमे 83 दरवाजे है। जो काफी भव्य लगता है। साथ ही कहा जाता है कि इस किले की चारदिवारी 28 मील मे फैली हुई है। साथ ही किले के बुर्ज पर काफी सुंदर पैंटिग भी की गई है। जो पूरे विश्व मे किले की पहचान रखती है।

  Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures