आखिर मिल ही गया इसका जवाब, पहले मुर्गी आर्इ या अंडा ? Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

इंटरनेट डेस्क। कौन पहले आया, मुर्गा या अंडा? चिकन, नहीं, अंडा, नहीं, चिकन, नहीं, अंडा अब इतनी बार सोचने के बाद आपका सर चकराना लाज़मी है ओर इस सवाल का जवाब मालूम करना एक गोले का शुरुवाती पॉइंट पता करने से कही ज्यादा मुश्किल है। आखिरकार इस राज पर से पर्दा हट गया आैर ये तय हो गया कि मुर्गी आैर अंडे में पहले कौन आया। वैज्ञानिकों का कहना है सदियों पुराने सवाल का नवीनतम जवाब क्वांटम फिजिक्स से मिला है।

Old Post Image

बेहद प्राचीन है सवाल
न्यूयार्क पोस्ट की एक रिपोर्ट के मुताबिक प्राचीन काल से यूनान के विचारकों के बीच बहस का मुद्दा रहा है एक सवाल कि पहले मुर्गी आर्इ या अंडा आैर आज तक इस पर माथापच्ची होती आर्इ है। जब किसी ने कहा कि मुर्गी पहले आर्इ तो पूछा गया कहां से क्योंकि बिना अंडे के मुर्गी तो आ नही सकती, आैर अगर कहा गया कि अंडा आया तो भी वही सवाल की मुर्गी के बिना अंडा कहां से आया। अब जाकर इस एेतिहासिक समस्या का एक जवाब सामने आया है। इस बारे में ऑस्ट्रेलिया की क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों और फ़्रांस के एनईईएल संस्थान ने दावा किया है कि क्वांटम फिजिक्स की मदद से यह रहस्य खुल गया है। 

Old Post Image

पहले आये दोनो ही  
वैज्ञानिकों के अनुसार क्वांटम फिजिक्स कहती है कि पहले अंडा और मुर्गी दोनों ही आए थे। क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी में एआरसी सेंटर ऑफ एक्सिलेंन्स फॉर क्वांटम इंजीनियरिंग सिस्टम के भौतिक विज्ञानी जैकी रोमेरो ने स्पष्ट किया कि क्वांटम मैकेनिक्स कहती है कि एेसा किसी नियमित रूप से तय क्रम के बिना हो सकता है। यानि शोध ये कहता है कि दोनों ही चीजें पहले हो सकती हैं, आैर इस अध्ययन को 'अनिश्चितता के कारणों का क्रम' कहा जाता है, हालांकि ये आम तौर पर लागू होने वाला नियम नहीं है। 

Old Post Image

क्या है ये अध्ययन
वैज्ञानिकों ने इसे समझने के लिए फोटोनिक क्वांटम स्विच कॉन्‍फिगरेशन का प्रयोग किया। इस शोध में दो घटनाओं का क्रम जिस पर निर्भर करता है उसे कंट्रोल कहते हैं। जैसे कंप्यूटर में बिट्स होता है, जिसकी वैल्यू या मान 0 या 1 होता है। यदि कंट्रोल वैल्यू 0 है तो 'बी' से पहले 'ए' होता है और यदि कंट्रोल वैल्यू एक है तो 'ए' से पहले 'बी' होगा। क्वांटम फिजिक्स में सुपरपोजिशन के अनुसार , मतलब एक के ऊपर दूसरी चीज को बैठाना, बिट्स हो सकते हैं, जिसका मतलब है कि उनका मान एक ही समय में 0 और 1 होता है। हम मान सकते हैं कि इस नियम के तहत एक निश्चित अर्थ में बिट्स की वैल्यू अपरिभाषित है। अब कंट्रोल के अनिश्चित मान की वजह से जो क्रम तय किया जाता है, उसे 'ए' और 'बी' घटनाओं के बीच का अपरिभाषित क्रम माना जाता है। भले ही सामान्य रूप से ये विश्वास किया जाता है कि 'ए' आैर 'बी' के बीच कौन पहला है ये सत्य एक ही हो सकता है पर क्वांटम फिजिक्स में ये दोनों ही पहले हो सकते हैं आैर उसे सही ही माना जायेगा। जिसे अपरिभाषित अस्थिर क्रम कहा जाता है। बेशक परिवर्तन की कई तरह का हो सकता है लेकिन इस रूपांतरण और ध्रुवीकरण विकल्प आपसी संबंध की एक सीमा होती है। शोध के दौरान इसी नियम को तोड़ दिया गया आैर तब यह नतीजा आया कि 'ए' और 'बी' के बीच एक अनिश्चित क्रम है। इस आधार पर सोसाइटी ऑफ अमरीकन फिजिक्स मैगजीन फिजिकल रिव्यू जर्नल- अमरीकन फिजिकल सोसाइटी में प्रकाशित इस शोध में ये बताया गया कि पहली बार अंडा आैर मुर्गी दरसल दोनों ही आये थे। 

यह भी पढ़े : पुराने समय में सोने-चांदी के सिक्के क्यों बनाए जाते थे, जानिए...
यह भी पढ़े : मम्मी ने वैज्ञानिकों को उलझन में डाला, सबसे पुराना हार्ट अटैक, देखे : Photos
यह भी पढ़े : अनोखा जीव : जो बिना कुछ खाए-पीए रह सकता है 30 साल तक जिंदा !
यह भी पढ़े : महिला ने अपना जुर्म कबूला, कहा- 'कुत्ते के साथ बुझाई हवस की प्यास'... जेल की सजा !
 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures