loading...

नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को रात 8 बजे देश को संबोधित किया। इसका विषय कोरोना वायरस था जो देश के लिए एक खतरा बन गया है। उन्होंने पहले ही देश को अपने संबोधन के बारे में जानकारी दे दी थी। इसी वजह से लोग उनके संबोधन को जानने को इच्छुक थे। मोदी ने इस दौरान कोरोना वायरस से बचने के लिए जनता कर्फ्यू की बात की। इस बात पर एंकर अंजना ओम कश्यप का बयान आया है। उन्होंने ट्विटर पर मोदी के जनता कर्फ्यू वाले बयान पर प्रतिक्रिया दी है।

जानें क्या है जनता कर्फ्यू

नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में जनता कर्फ्यू का जिक्र किया है। उन्होंने बताया है कि इसके तहत 22 मार्च को देश की जनता को सुबह 7 से लेकर रात के 9 बजे तक घर पर ही रहना चाहिए। उन्होंने कहा है कि इस दौरान शाम को 5 बजे ताली और थाली बजाकर ऐसे लोगों का सम्मान कीजिए जो देश को कोरोना वायरस से बचा रहे हैं। मोदी ने बहुत जरूरी काम न होने पर घर से बाहर निकलने को मना किया है।

जानें क्या बोली अंजना ओम कश्यप

मोदी के जनता कर्फ्यू वाले बयान पर एंकर अंजना ओम कश्यप ने भी चुप्पी तोड़ दी। उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से शाहीनबाग का जिक्र छेड़ दिया। अंजना ने अपने ट्विट में कहा कि शाहीन बाग में जो लोग प्रदर्शन कर रहे हैं, उनको भी इस जनता कर्फ्यू का सम्मान करना चाहिए। आपको बता दें कि शाहीन बाग में धरना दे रही महिलाओं ने कोरोना वायरस के भय के बीच भी अपना धरना नहीं छोड़ा है। वहीं अंजना ने कहा है कि वो मोदी की इस अपील का सुबह 7 से रात 9 बजे तक पालन करेंगी।