वो असरदार जड़ी-बूटियां जो डायबिटीज को करती है कंट्रोल Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

इंटरनेट डेस्क: डायबिटीज की बीमारी आजकल हर उम्र के कई लोगों मे मिल ही जाती है जिसे कंट्रोल मे रखना बेहद जरुरी है डायबिटीज की वजह से लोगों के शरीर पर काफी प्रभाव पड़ता है जैसे तनाव, वंशानुगत, मोटापा और भी शरीर से जुड़ी कई तरह की परेशानी यह बीमारी लाइलाज है जिसे कंट्रोल मे रखना बेहद जरुरी है जिसके लिए हम चिकित्सक से परामर्श तो करते है साथ ही डायबिटीज कंट्रोल करने वाली दवाईयों का भी सेवन करते है कुछ ऐसे नुस्खें भी जिससे आप इस डायबिटीज की परेशानी को कंट्रोल कर सकते है। 


ऐसी कुछ जड़ी बूटियां है जिससे आप डायबिटीज को कंट्रोल कर सकते है....

Old Post Image

गिलोय का इस्तेमाल कई तरह की बीमारियों के इस्तेमाल मे किया जाता है गिलोय को टिनोस्पोरा कॉर्डिफोलिया कहा जाता है, जिसे अमरत्व की जड़ माना जाता है, इस पौधे की पत्तियां ब्‍लड शूगर के लेवल को स्थिर करने और डायबिटीज को कंट्रोल करने में काफी फायदेमंद होती है और आपके इम्यूनिटी सिस्टम को बेहतर बनाए रखने का काम करती है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सिडेंट हानिकारक कणों से लड़ते हैं यह जड़ी बूटी इम्यूनोमॉड्यूलेटरी के रूप में भी काम करती है, जो शरीर में ग्लाइकेमिक कंट्रोल करते है यह एक प्राकृतिक एंटी-डाइबेटिक दवा है जो चीनी की इच्‍छा को दबाती है और आपके ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल रखती है। 

Old Post Image

विजयसार को ब्‍लड शुगर के लेवल को बनाए रखने और डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए बेहतर माना जाता है यह डायबिटीज से जुड़े लक्षणों को कम करने में मदद करता है इसका उपयोग करने से लगातार पेशाब आना, ओवर ईटिंग और शरीर मे जलन जैसी परेशानियों को दूर करने मे बेहद असरदार होती है

Old Post Image

गुड़मार या जिमनेमा सिल्वेस्टर, एक बारहमासी बेल है, जो भारत, अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में पाई जाती है यह भी डायबिटीज की बीमारी को कंट्रोल करने का काम करती है गुड़मार की पत्तियां चबाने से कुछ घंटों तक मीठे स्‍वाद का अनुभव नहीं होता है और आप अपनी डायबिटीज को भी कंट्रोल मे रख सकते है। 

जीभ पर गंदगी को दूर करने के असरदार घरेलू तरीके

Old Post Image

 सदाबहार को पेरिविंकल के रूप में जाना जाता है और यह आमतौर पर भारत में पाया जाता है इसके फूलों और चिकने रंग के हरे पत्तों को टाइप -2 डायबिटीज के लिए प्राकृतिक चिकित्सा के रूप में काम मे लिया जाता है जो आपके शूगर लेवल को कंट्रोल रखने का काम करती है। 

भाई दूज 2018: इस पूरी विधि से करें हर बहन भाई के तिलक होगा शुभ Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures