रुप चौदस के दिन करें ये काम दूर होगी हर परेशानी Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

इंटरनेट डेस्क: हमारी हिंदू संस्कृति मे हर त्योहार का अपना एक अलग ही महत्व है ऐसा ही कुछ दिवाली के पर्व को लेकर भी है पांच दिनों तक दिवाली के पर्व की रौनक हर तरफ देखने को मिलती है जहां दिवाली आने से पहले धनतेरस पर बाजारों मे एक खास रौनक देखी जाती है तो धनतेरस के दूसरें दिन नरक चतुर्दशी अथवा रुप चौदस का त्योहार मनाया जाता है दिवाली के एक दिन पहले यह त्योहार मनाया जाता है जिसे हम छोटी दिवाली भी कहते है रूप चौदस को काली चतुर्दशी कहते है इस दिन को लेकर मान्यता है की  कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी के दिन विधि-विधान से पूजा करने से व्यक्ति को अपने पापों से मुक्ति मिलती है । 


रुप चौदस के दिन को लेकर यह विशेष बातें भी है जिससे आप अनजान है.. 

Old Post Image

इस दिन शाम को घर मे दीये जलाए जाते है  यह पांच पर्वों की श्रृंखला के मध्य में रहने वाला त्योहार है।  दीपावली से दो दिन पहले धनतेरस फिर नरक चतुर्दशी या छोटी दीपावली मनाई जाती है दीए की रोशनी से रात के काले अंधकार को प्रकाश से दूर भगा दिया जाता है जैसा की हम दीपावली की रात को करते है ।

इस दिन सूर्योदय से पूर्व शरीर पर तेल लगाकर स्नान करना अत्यन्त शुभ होता है इससे आपके वर्षभर के सभी शारिरिक कष्टों का निवारण होता है।

स्नान के पश्चात दक्षिण मुख करके यमराज से प्रार्थना करने पर व्यक्ति के वर्ष भर के सभी पापों से मुक्ति मिलती है   

अमरूद खाने के ये फायदे जानकर चौंक जाएंगे

Old Post Image

रुप चौदस के दिन सायंकाल देवताओं का पूजन करके घर, बाहर, सड़क आदि प्रत्येक स्थान पर दीपक जलाकर रखना चाहिए  ऐसा करना शुभ होता है  इस दिन रात्रि को जागरण करके धन की देवी लक्ष्मी माता का पूजन विधिपूर्वक करना चाहिए एवं घर के प्रत्येक स्थान को स्वच्छ करके वहां दीपक लगाना चाहिए, जिससे घर में लक्ष्मी का वास एवं दरिद्रता का नाश किया जा सके।

इस दिन देवी लक्ष्मी और भगवान गणेश का विशेष श्रृंगार करके 13 अथवा 26 दीपकों के मध्य एक तेल का दीपक रखकर उसकी चारों बातियों को प्रज्वलित करना काफी शुभ होता है और ये दीपक रातभर जलना बेहद शुभ होता है। 

तो वही महिलाएं इस दिन खूबसूरत श्रृंगार करती है जिससे उनकी खूबसूरती इस त्योहार पर अलग ही निखकर आती है। 

दिवाली 2018: दिवाली पूजन मे पहने इस रंग के वस्त्र चमक जाएगी किस्मत

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

  Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures