कैसे और कब बनी भारतीय जनता पार्टी, जानिए इसका इतिहास।

यह सारी जानकारी hindi.news18.com की ऑफिशल वेबसाइट से ली गई है...

loading...

आज भारत की सबसे बड़ी पार्टी भाजपा किसी ज़माने में भारतीय जनसंघ के रूप में जानी जाती थी। इसकी शुरुआत 1951 में डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने की थी। यह भारतीय जनसंघ सन 1980 में भारतीय जनता पार्टी के नाम से जाना जाने लगा। अपने शुरुआती समय 1984 में बीजेपी को चुनाव में सिर्फ 2 सीटें मिली थी। लेकिन आज भारतीय जनता पार्टी देश की करीब 70 प्रतिशत आबादी पर बीजेपी का ही राज है। चलिए जानते है बीजेपी की शुरुआत से लेकर शिखर तक पहुंचने की कहानी।

शुरुआत में भारतीय जनसंघ को 1952 के आम चुनाव में सिर्फ तीन सीटें मिली थी। लेकिन अपने दूसरे ही आम चुनाव में जनसंघ की सीटें दुगनी यानि 1957 में चार सीटें जीत गई। इस सफलता को देखते हुए भारतीय जनसंघ का मनोबल और बढ़ गया। क्योकि उस समय हर जगह सिर्फ कांग्रेस का ही राज था।

भारतीय जनसंघ के लगातार प्रयास से 1962 के तीसरे लोकसभा चुनाव में सीटों का अकड़ा 14 हो गया। और देखते ही देखते 1967 में यह सीटें बढ़कर 35 हो गई। भारतीय जनसंघ लगातार सफलता की उचाईयों पर चढ़ता चला गया। लेकिन 1971 जनसंघ को सिर्फ 22 सीटों से संतोष करना पड़ा।

और फिर पीएम इंदिरा गांधी ने (1975-1976) में आपातकाल लागू किया। उसके बाद कांग्रेस पार्टी को हारने के लिए भारतीय जनसंघ के साथ कई पार्टयों ने मिलकर भारतीय जनता पार्टी की शुरुआत की। आखिरकार 1977 के छठे आम चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने रिकॉर्डतोड़ 295 सीटें जीती। और कांग्रेस को सत्ता से बेदखल कर दिया। लेकिन इतनी सारी पार्टियों की भागीदारी के कारण बीजेपी में अंदरूनी कलह होने लगी जिस कारण यह सरकार ज्यादा समय तक नहीं चल सकी।

और आखिरकार 1980 में हुए लोकसभा चुनाव में बीजेपी को सिर्फ 31 सीटें ही मिल पाई। और लगातार बीजेपी के प्रदर्शन में गिरावट देखने को मिलने लगी। 1984 में बीजेपी को सिर्फ 2 सीटों से संतोष करना पड़ा।

1989 के चुनाव में बीजेपी को 85 सीटें मिली। और आगे बीजेपी का प्रदर्शन कुछ इस तरह रहा 1991 में 120 सीटें, 1996 में 161 सीटें, 1998-99 में 182 सीटें और 2009 में 116 सीट हासिल हुई।

बीजेपी ने इस मुकाम तक पहुंचने के लिए बहुत लंबा संघर्ष किया। जिसमे अनेकों लोगों की भागीदारी रही है एक ज़माने में भारत में सिर्फ कांग्रेस पार्टी ही राज कर सकती थी लेकिन बीजेपी ने अपनी मेहनत से आज कांग्रेस को उस जगह पंहुचा दिया है जहा कभी बीजेपी खड़ी हुआ करती थी।

आज वर्तमान के गृहमंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मिलकर इसे और ज्यादा ऊंचाई प्रदान की है। मोदी की नीतियों की वजह से बीजेपी ने भारत के पूर्वोत्तर तक अपना झंडा लहरा दिया, जहां किसी ज़माने में बीजेपी के नेता सत्ता के बारे में सोचते भी नहीं थे।

अगर आपको बीजेपी की सरकार या नरेंद्र मोदी पसंद है तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों को जरूर शेयर करना। और ऐसी जानकारियां पाते रहने के लिए हमें फॉलो भी कर लेना।

(न्यूज़सोर्स - hindi.news18.com)