दुनियाँ का सबसे पहला कैमरा, क्या थी इसकी कीमत और यह कितना बड़ा था।

 

loading...

दुनिया का पहला कैमरा इतना बड़ा था जिसको उठाने के लिए 15 लोगों की जरुरत पड़ी थी लेकिन आज साइंस ने इतनी तरक्की कर ली है की आज के कैमरा दिखाई भी नहीं देते। अब तो हमारी शर्ट के बटन से भी छोटे कैमरा बाजार में उपलब्ध है लेकिन दुनियाँ में जो सबसे पहले कैमरा बनाया गया था आखिर उसका वजन कितना था और आखिर उसकी कीमत क्या थी।

 

दुनियां का सबसे पहला कैमरा

पूरी दुनियाँ में सबसे पहला कैमरा सन 1900 में बनाया गया था। इसको फोटोग्राफर जॉरज लारेंस ने बनाया था। दरअसल यह कैमरा ऑल्टन रेलवे में चलने वाली सबसे बड़ी ट्रेन की फोटो को खींचने के लिए बनाया था। इस कैमरा के द्वारा साइज 8x4.5 फीट की फोटो खींची जा सकती थी। जब भी इससे फोटो खींचना होता था तो इसको चलाने के लिए 15 लोगों की जरुरत पड़ती थी।

कीमत के मामले में भी यह कैमरा बहुत महंगा था इसकी कीमत 5,000 हजार अमेरिकी डॉलर थी यानी भारत के करीब 3 लाख 52 हजार 542 रूपए होते है। जो उस ज़माने में करोड़ माने जाते थे।

 

अबतक बन रहा है दुनियां सबसे बड़ा कैमरा

और आज 2019 की बात करे तो हमारे वैज्ञानिक ऐसा कैमरा बना रहे है जो अंतरिक्ष की ऐसी तस्वीरें लेगा जो आज तक कोई कैमरा नहीं ले पाया। चिली में 2015 से अब तक इस कैमरा पर काम चल रहा है जो शायद 2022 तक पूरा हो जाए। इस कैमरा में 3.2 गीगा पिक्सल यानि (3200 मेगा पिक्सल) का लेंस होगा। इसकी एक फोटो को देखने के लिए 1500 हाई डेफिनिशन की डिस्प्ले की जरुरत होगी। इस कैमरा का नाम क्रिटिकल डिसिशन 3 है।

अगर आप इस कैमरा के बारे में ज्यादा जानना चाहते है तो हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताए। हम इस कैमरे पर आपके लिए विस्तार से एक अलग आर्टिकल में बात करेंगे धन्यवाद्।