Me Too का प्रकोप जारी,सोना मोहपात्रा ने सोनू निगम को लेकर कह दी ये बड़ी बात Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

एंटरटेनमेंट डेस्क। गायिका सोना मोहपात्रा ने गुरूवार को सोनू निगम पर निशाना साधते हुए कहा कि किसी शख्स के साथ मेरे रिश्ते के आधार पर मेरी पहचान बताना, उनके संस्कार और सोच को दर्शाता है। निगम की टिप्पणियों का एक-एक बिंदु पर खंडन करते हुए मोहपात्रा ने कहा कि ये टिप्पणियां अनुचित हैं। सोनू निगम ने मी टू अभियान के आरोपी अनु मलिक के कथित बचाव वाले अपने बयान की आलोचना को ट्विटर पर उबकाई के तौर पर बताया था।


गायिका ने कहा, मेरे खुद के अस्तित्व के बजाय किसी शख्स के साथ मेरे रिश्ते के आधार पर मेरा वजूद बताना, मेरे नाम को मिटाने की तरह है, यह तो पितृसत्तात्मक सोच का उपहार है. उन्होंने लिखा, मी टू अभियान में मेरे विचारों और रुख को उबकाई बताना बिल्कुल ठीक नहीं है। गुरूवार को एक बयान में सोनू ने कहा, आदरणीय महिला ट्विटर पर उबकाई कर रही हैं। वह एक ऐसे शख्स की पत्नी हैं जो मेरे करीब थे. इसलिए वह रिश्ता भूल गयी हैं।

मैं यह शिष्टाचार बनाये रखना चाहूंगा. अपने जवाब में सोना ने कहा कि वह सोनू को किसी के पापा, किसी के पति या किसी का बेटा कहकर नहीं बुलाना चाहतीं। उन्होंने कहा, आप अब भी मेरे लिए भारत के एक बेहतरीन शास्त्रीय फिल्म गायक हैं। आप मेरे लिए अब भी वह शख्स हैं जो हर वक्त मेरे प्रति अच्छा रहा. हम करीब डेढ़ दशक निजी और पेशेवर तौर पर एक दूसरे के करीबी रहे. सोना ने कहा, आपने तो मुझे एक शख्स के तौर पर मानना भी मुनासिब नहीं समझा, जबकि आप मुझे एक दशक से भी अधिक समय से जानते हैं।

आप मुझे जानते तो हैं, लेकिन एक पत्नी के तौर पर. यह आपके संस्कार और सोच को दिखाता है। गायिका ने संगीतकार राम संपत से शादी की है और ये दोनों अपने म्युजिक प्रोडक्शन हाउस ओग्रोन म्युजिक में साझेदार हैं। और उन्होंने आगे कहा कि वह कभी भी निजी रिश्ते के आधार पर एक खास तरीके में किसी का बचाव नहीं करेंगी और ना ही इसके आधार पर उसके साथ बर्ताव करेंगी. उन्होंने कहा, एक कलाकार के तौर पर हमने लोगों के दिलों में जगह पायी है और यह मेरा कर्तव्य है कि मैं सही के लिये खड़ी होऊं।

मुझे खुशी है कि आपने राम संपत के साथ अपने रिश्ते को अहमियत दी जिनके साथ आपने ना सिर्फ 'खाकी' का गीत 'दिल डूबा' गाया बल्कि बीते साल में और भी गाने गाये. उन्होंने कहा, मुझे आपकी नजरों में अपना दर्जा नहीं बनाना है। हां मैं बस इतना जानती हूं कि सभी रिश्ते आधार नहीं बनते हैं। बस इस हाथ दे और उस हाथ ले वाली बात है। कुछ रिश्ते साझा मूल्यों और मान्यताओं के आधार हैं। दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे पास संभवत: कुछ नहीं है। सोना ने कहा कि पुरुष अहम और संकीर्ण सोच को शेखी की आड़ देना सोनू का ओछापन है। उन्होंने कहा कि मलिक के बचाव में सोनू का बयान झकझोकरने वाला, भयावह और दिल तोड़ने वाला है।

सप्ताहांत में एक मीडिया सम्मेलन में निगम ने कहा था कि मलिक लंबे समय से उनके दोस्त रहे हैं. उन पर बिना किसी सबूत के आरोप लगाये गये और उन्होंने मी टू अभियान पर बड़ी शालीनता से खामोशी धारण की है। सोना ने लिखा, सोनू जी, क्या यह किसी की शिष्टता और भद्रता का संकेत है? क्या यह आपका शांतिप्रिय और किसी से नहीं झगड़ने वाला स्वभाव दिखाता है? उन्होंने कहा कि यौन उत्पीड़न और दुर्व्यवहार के सभी मामले कानून की अदालत में साबित नहीं किये जा सकते, लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि पीड़ित, आरोपियों का नाम उजागर करना बंद कर दें।

मलिक ने बार-बार इन सभी आरोपों से इनकार किया है। उनके वकील ने अक्तूबर में बताया था कि मी टू अभियान का इस्तेमाल उनके मुवक्किल के चरित्र हनन के लिए किया जा रहा है। इन आरोपों के बाद संगीतकार को गायन रियलिटी शो इंडियन आइडल के निर्णायक मंडल से हटना पड़ा था। वह 2004 से इस कार्यक्रम से जुड़े थे। Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures